आम मुद्दे

Greater Noida Breaking News: उत्तर प्रदेश के मंत्री के रिश्तेदार की विला को चीनी नागरिकों ने बनाया अड्डा

ग्रेटर नोएडा, रफ्तार टुडे। चीनी जासूस के पकड़े जाने के बाद भारत की खुफिया एजेंसी हर एंगल से जांच कर रही है। जिस बिल्डिंग में चीनी नागरिकों का गेस्ट हाउस बनाया था वह एक मंत्री के रिश्तेदार की है। यह बिल्डिंग चाइनीज मोबाइल कंपनी विवो के गेस्ट हाउस के रूप चल रही थी।

भारत की खुफिया एजेंसी और ग्रेटर नोएडा पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है कि आखिरकार यहां पर क्या चल रहा था? ग्रेटर नोएडा में बनाए गए इस ठिकाने पर क्या होता था? जिनका जवाब ढूंढने के लिए हर एंगल से जांच पड़ताल की जा रही है।

घरबरा में स्थित गेस्ट हाउस में 4 कमरों में ताले लगे मिले हैं। जांच में सामने आया है कि इस गेस्ट हाउस में आने वाले काफी लोगों की एंट्री तक नहीं होती थी। गेस्ट हाउस में लगे सीसीटीवी कैमरे के आधार पर जांच पड़ताल की जा रही है। जिसकी वजह से काफी आसानी से फायर एनओसी भी मिल गई थी।

हालांकि, इसकी सूचना पहले ही मिल गई थी। जिसके बाद गेस्ट हाउस में रुके हुए 20 चाइनीस युवक और 12 विदेशी लड़कियां मौके से भाग गई थी। पुलिस ने मौके से 3 लड़कियों को पकड़ा है, जो नेपाल, मणिपुर और एक दूसरे राज्य की रहने वाली है। इनमें से मणिपुर में रहने वाली लड़की ने बताया कि उसके कुछ दोस्त यहां पर रुके हुए थे, जिनसे वह मिलने आई थी।

पुलिस को तीनों लड़कियों पर शक, कॉल डिटेल खंगाली जा रही
पुलिस को शक है कि तीनों लड़कियां पूछताछ के दौरान महत्वपूर्ण बातें छुपा रही है। इसके आधार पर इसकी भी जांच की जाएगी कि यह तीनों लड़कियां यहां पर कब से रह रही हैं। मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने तीनों लड़कियों के कब्जे से कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज भी बरामद किए हैं।

चीनी जासूस से मिलने कौन-कौन व्यक्ति आते थे। हालांकि इस बात की अभी तक आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की गई है। पुलिस ने चीनी जासूस के दस्तावेज अपने कब्जे में ले लिए हैं। जिनमें से कुछ दस्तावेज फर्जी हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button