आम मुद्दे

ग्रेटर नोएडा के UPSIDA साइट सी में भव्य रूप में मनाया गया पराक्रम दिवस, नेताजी सुभाष चन्द्र बोस को दी गई आदरपूर्ण श्रद्धांजलि

ग्रेटर नोएडा, रफ्तार टुडे। दिनांक २३ जनवरी को UPSIDA साइट सी ग्रेटर नोएडा स्थित नेताजी सुभाष चन्द्र बोस पार्क में पराक्रम दिवस मनाया गया।आस पास की सभी सोसायटियों शिवालिक होम, मिगसन, ला गैलैक्सिया, ओएसिस, पैरामाउंट और साइट सी हाउसिंग एक्सटेंशन के सैकड़ों लोग एकत्रित हुए। जिसमें विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। सभी ने नेताजी को याद करते हुए उनके साहस और राष्ट्रभक्ति का वर्णन किया।

मुख्य अतिथि के रूप में भाजपा गौतमबुद्ध नगर उपाध्यक्ष श्री सेवानंद शर्मा व भाजपा ग्रेटर नोएडा अध्यक्ष महेश शर्मा व धन प्रकाश बाह्मण महासभा अध्यक्ष शामिल हुए।

पराक्रम दिवस के अवसर पर पार्क का नामकरण सेवानंद शर्मा व महेश शर्मा द्वारा किया गया। अगले पराक्रम दिवस से पहले पार्क में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की मूर्ति की स्थापना की घोषणा महेश शर्मा ने की।

सभी ने नेताजी की तस्वीर पर पुष्प अर्पित करके आदरपूर्ण श्रद्धांजलि दी। नेताजी के साथ साथ सभी स्वतंत्रता सेनानियों और शहीदों को याद किया।

संजय जायसवाल ने कहा कि यह पार्क नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के राष्ट्र के प्रति योगदान को एक आदरपूर्ण श्रद्धांजलि की पहल है।

ममता तिवारी ने कहा कि हमारे सभी स्वतंत्रता सेनानियों और महापुरुषोंं का सम्मान हमारा परम कर्तव्य है। उसी दिशा में आज यहां पराक्रम दिवस मनाया जा रहा है।

ओमदत्त शर्मा ने कहा कि नेताजी समस्त भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व के लिए प्रेरणास्रोत हैं। पराक्रम दिवस समारोह निश्चित रूप से हम सबके लिए नेताजी के जीवन से प्रेरणादायक होगा। युवाओं और बच्चों सहित सभी में देशभक्ति और साहस की भावना समाहित होगी।

माननीय प्रधानमंत्री जी ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती को २०२१ में पराक्रम दिवस घोषित करके राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नेताजी का सत्कार किया है। हम सभी देशवासियों का कर्तव्य है कि नेताजी के योगदान की कृतज्ञता में पराक्रम दिवस का प्रचार प्रसार पूरी निष्ठा से करें। और नेताजी को आदरपूर्ण श्रद्धांजलि दें।

सपना आर्य ने कहा कि यह पार्क साइट सी की ओर से नेताजी को समर्पित है। इसमें प्रतिवर्ष पराक्रम दिवस मनाया जाएगा।

कार्यक्रम के आयोजन में संजय जायसवाल, ममता तिवारी, सपना आर्य, ओमदत्त शर्मा, रमेश शर्मा, प्रवीण कुमार, प्रवीण गोस्वामी, गिरीश, नवीन, रंजीत तायड़े, धर्मेंद्र चौहान, प्रमोद शर्मा, पवन पाठक, कन्हैया ठाकुर, एच एल मिश्रा, निर्भय चौहान, श्रीनिवास भाटी, जसबीर दहिया, ब्रिजेश श्रीवास्तव, रंजीत तायड़े कसाना जी आदि का मुख्य सहयोग रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button