आम मुद्दे

कैलाश अस्पताल एवं न्यूरो संस्थान सेक्टर 71 की तीसरी वर्षगांठ मनाई गई

जो इलाज पहले केवल विदेशों में होता था वह अब कैलाश समूह के अस्पतालों में उपलब्ध है: डॉ पल्लवी शर्मा

नोएडा, रफ्तार टुडे।
कैलाश अस्पताल एवं न्यूरो संस्थान, सेक्टर-71, नोएडा की तीसरी वर्षगाँठ के उपलक्ष्य में डायरेक्टर डॉ० पल्लवी शर्मा एवं डॉ० श्रीकान्त शर्मा ने संस्था की गत 3 वर्षों की महत्वपूर्ण उपलब्धियों पर प्रकाश डाला।

डॉ० (कर्नल) राजेश पराशर, चिकित्सा अधीक्षक ने कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए सभी मीडिया कर्मियों का स्वागत किया एवं नववर्ष की शुभकामनाऐं दी। डॉ० पल्लवी ने बताया कि जो कार्य 37 वर्ष पूर्व संस्थान के संस्थापक डॉ महेश शर्मा, सांसद गौतमबुद्ध नगर एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने एक छोटी सी क्लीनिक से शुरू किया था, वह अब कैलाश अस्पताल समूह का रूप ले चुका है। अब 9 अस्पतालों के साथ कैलाश अस्पताल समूह उत्तर प्रदेश, दिल्ली एवं उत्तराखण्ड की जनता की सेवा में पूर्ण क्षमता, दक्षता एवं नैतिक मूल्यों के साथ समर्पित है जिसमें 2200 से अधिक बिस्तर 500 से अधिक आई.सी.यू. बिस्तर 35 से अधिक ऑपरेशन थियेटर, 5 कैथलैब 800 से अधिक स्पेशलिस्ट एवं सुपर स्पेशलिस्ट डॉक्टर एवं 8000 से अधिक डेडिकेटेड मेडिकल स्टाफ हैं।

इस सफर में जनता के अस्पताल के प्रति विश्वास और भरोसे के लिए उनका हार्दिक धन्यवाद किया।

कोविड काल में कैलाश अस्पताल समूह ने देश में महामारी की आपदा में महत्वपूर्ण योगदान देते हुए लगभग हजारों लोगों के जीवन की रक्षा की एवं 2.5 लाख से भी अधिक लोगों को वैक्सीन लगायी गई। कैलाश अस्पताल समूह 7 आक्सीजन टैंक और आक्सीजन जनरेटर के साथ किसी भी आपदा से निपटने में सक्षम है।

128 स्लाइस सी.टी. स्कैन कैप्सूल एंडोस्कोपी एवं ई.सी.एम.ओ (ECMO) जैसे नए मेडिकल उपकरण ग्रुप में जोड़े गए।

कैलाश अस्पताल समूह ने नया पीसीआर लैब स्थापित किया जिसमें 1500 से अधिक टेस्ट प्रतिदिन किये जाते हैं। बहुत से नये लैब जाँच शुरू किये गये, जैसे कि Immunohistochemistry (कैंसर के डॉयग्नोसिस में मदद करने वाले जाँच और मार्कर) वायोफायर मल्टीप्लेक्स पीसीआर से सिन्ड्रोमिक इन्फेक्शन डिजीज की जाँच आसान हुई प्रोटीन एट्रोफोरेसिस मशीन को भी जोड़ा गया।

इंटरनेशनल रेडियोलॉजी एवं न्यूरोलॉजी की शुरुआत हुई। इसमें वसक्यूलर प्रोसीजर जैसे ब्रेन एन्युरिज्म, क्लिपिंग एवं कॉइलिंग, यूटेराइन आर्टरी एम्बोलाइजेशन एवं ब्रोन्कियल परक्यूटेनियस, ट्रांस-हेपेटिक बिलियरी ड्रेनेज एवं वसक्यूलर अकलशन्स उपचार जैसे जटिल प्रोसीजर भी सफलता पूर्वक किये गये।

कैलाश अस्पताल समूह के फिटल मेडिसिन विभाग ने इन्ट्रा यूटेराइन ब्लड ट्रांसफ्यूजन एवं फिटल रिडक्शन जैसे कठिन एवं चुनौतीपूर्ण केस सफलतापूर्वक किये।

हम निरन्तर अथक प्रयासों से मुफ्त स्वास्थ्य जाँच शिविर आयोजित करते है एवं स्वास्थ्य वार्ता के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के बारे में जागरूक करते रहते हैं। समाज का प्रत्येक व्यक्ति स्वस्थ रहे इस भावना के साथ कैलाश नेचुरोपैथी एवं कैलाश हेल्थ विलेज किसी भी प्रकार के रोग से बचने के लिए विभिन्न प्रकार की प्रक्रियाओं एवं थैरेपी के माध्यम से स्वस्थ रहने की सुविधा प्रदान करता है।

डा. पल्लवी ने गर्व से बताया कि कैलाश ही केवल एक ऐसा समूह है जो होलिस्टिक हैल्थकेयर जैसे कि एलोपेथी एवं आयुर्वेद दोनों अपने मरीजों को प्रदान करता है।

उपचार को किफायती बनाये रखने के लिए कैलाश हेल्थ कार्ड का शुभारम्भ किया गया जिससे लोगों को स्वास्थ्य सुविधाओं में छूट का लाभ मिला। वहीं कैलाश हैल्थकेयर ऐप के द्वारा सभी स्वास्थ्य सुविधाओं को फोन के एक क्लिक पर उपलब्ध कराया गया। कैलाश होम केयर सेवाओं का भी शुभारम्भ किया गया, जिसमें मेडिसिन डिलीवरी होम सैम्पल क्लेक्शन फिजियोथेरेपी एवं पैरामेडिकल स्टाफ घर पर ही उपलब्ध कराया गया।

दिल्ली एन.सी.आर. के साथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार, पंजाब, उत्तराखण्ड से भी मरीज कैलाश अस्पताल आते हैं। अस्पताल की उच्च तकनीकी एवं दक्षीय चिकित्सा सुविधाओं के द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय मरीजों का भी न्यूरो ऑर्थोपेडिक एवं कार्डियोलॉजी विभाग में सफल इलाज हुआ।

हाल ही में लगातार दूसरी बार संस्था को सबसे स्वच्छ अस्पताल की श्रेणी में प्रथम पुरस्कार से नोएडा प्राधिकरण द्वारा नवाजा गया।

डॉ. श्रीकांत शर्मा (डायेरक्टर) ने बताया कि अस्पताल आने वाले समय में चिकित्सा के क्षेत्र में कई नए इलाज के तौर-तरीकों को जोड़ने वाले हैं, इनमें शामिल हैं

  1. ऑन्कोलॉजी यूनिट एवं रेडियोथेरेपी और पेट स्कैन
  2. ऑर्गन ट्रांसप्लांटेशन 3. रोबोटिक सर्जरी
  3. इंडोस्कोपिक एवं इंडी ब्रोंकोस्कोपिक अल्ट्रासाउंड 5. आई.वी.एफ.

अन्त में समूह की अध्यक्ष डॉ० उमा शर्मा ने सबका धन्यवाद किया और नववर्ष की हार्दिक शुभकामनायें दीं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button