आम मुद्दे

भारत बंद: नोएडा-फरीदाबाद, गाजियाबाद– गुरुग्राम में सुरक्षा चाक चौबंद, दिल्ली के सभी बॉर्डर होंगे सील!

नोएडा/गुरुग्राम रफ्तार टुडे। केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई अग्निपथ योजना का विरोध दिन ब दिन हिंसक होता जा रहा है। कई प्रदर्शनकारी समूहों ने 20 जून को भारत बंद का आह्वान किया है।

अग्निपथ योजना का विरोध दिन ब दिन हिंसक होता जा रहा है। कई प्रदर्शनकारी समूहों ने 20 जून को भारत बंद का आह्वान किया है। केंद्र सरकार ने फर्जी खबरें फैलाने के आरोप में 35 वाट्सऐप ग्रुप पर प्रतिबंध लगा दिया है।

भारत बंद की आड़ में असामाजिक तत्वों द्वारा हिंसा की आशंका के मद्देनजर दिल्ली, नोएडा और फरीदाबाद पुलिस पूरी तरह मुस्तैद हो गई है। नोएडा पुलिस ने सोमवार को जिले में सीआरपीसी की धारा 144 लागू कर दी है। गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने नोएडा में शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है।

‘भारत बंद’ के आह्वान के बारे में पता चला है। इस दौरान असामाजिक तत्व शांति भंग कर सकते हैं और दिल्ली की ओर मार्च करने की कोशिश कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि धारा 144 का उल्लंघन करने पर एफआईआर दर्ज की जाएगी।

दिल्ली पुलिस को ऐसे इनपुट मिले हैं कि बड़ी तादाद में अग्निपथ के विरोध में बड़ी संख्या में ट्रैक्टर दिल्ली की तरफ कूच कर सकते हैं। इसके बाद पुलिस की वरिष्ठ अधिकारियों ने हाईलेवल मीटिंग की।

दिल्ली के सभी बॉर्डर पर सोमवार सुबह सुरक्षा बढ़ाने पर चर्चा हुई। सूत्रों के मुताबिक टिकरी बॉर्डर, सिंधु बॉर्डर, अप्सरा बॉर्डर, गाजीपुर बॉर्डर, बदरपुर बॉर्डर समेत दिल्ली के सभी बॉर्डर को सील किया जा सकता है।

फरीदाबाद, गाजियाबाद और गुरुग्राम में पुलिस ने संभावित भारत बंद को देखते हुए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए है। पुलिस के मुताबिक पहले से लगाए गए पुलिस ब्लॉकों के साथ बदरपुर बॉर्डर, दुर्गा बिल्डर्स, प्रह्लादपुर, शूटिंग रेंज, मंगर, सीकरी बॉर्डर, बल्लभगढ़ बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, मेट्रो समेत 11 अन्य पुलिस ब्लॉक बनाए गए हैं।

शहर में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए 2,000 से अधिक पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। भारत बंद के दौरान असामाजिक तत्वों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए वीडियोग्राफी की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button